Google+ Badge


है समाज आराध्य हमारा

यह सही है 
हम सब कुछ नहीं कर सकते

किन्तु फिर भी कुछ तो करते

जो कर सकते करेंगे, 
जरूर करेंगे,

बिना इस बात की चिंता किये

कि लोग क्या कहेंगे ?

लोगों के कहने से

क्या अपनों से मुंह मोड़ लें ?

अपनी प्रतिज्ञा तोड़ लें ?

हमारा आदर्श है वह गिलहरी

जो राम सेवा निरत मरी |

है समाज आराध्य हमारा

पीड़ित जनहित जीवन सारा |

जय श्री राम

Advertisement

 
Top