Google+ Badge

पंद्रह अगस्त मनाया जाकर, सीमा रखवालों के साथ
नहीं ऊँट से पानी अब तो, पाईप लाइन की सौगात
रेगिस्तां को नंदन वन सा, सरसाने का द्रढ़ संकल्प
देश की रक्षा पहले सोचे, मोदी का है कौन विकल्प ?

साभार श्री रूद्र शेखर
द्वारा प्रदत्त लिंक

Advertisement

 
Top