Google+ Badge

लूट सके तो लूट ले भैया
हम सब नाचें ताता थैया
नेता करें धमाल करें सब
हा हा दैया मर गए मैया

नाव फंसी है मझधारों में
दिखता नहीं है कोई खिबैया
एसा मंजर कभी ना सोचा
सबसे ऊपर हुआ रुपैया

कोई साधे अमरीका को
कोई चीनी भैया गाये
कोई पढ़े कसीदा अरबी
भारत माता अश्रु बहाए

नायक कोई बचा नहीं है
जिस पर टिके देश की अँखियाँ
कृष्ण बसे गोलोक धाम में
कंस यहाँ पर मारे सखियाँ

याद रखोगे तुम प्रण अपना
या फिर हम ही कमर बाँध लें
तुम आओगे नटवर नागर
या फिर हम ही शस्त्र साध लें ?

Advertisement

 
Top